Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

खबरू महादेव झरना आस्था के साथ पर्यटन की दृष्टि से भी बना रहा है अपनी पहचान

                   वोह घाटी में चार किलोमीटर का पैदल रास्ता तय कर रोजाना पहुंच रहे सैकड़ों सैलानी

काँगड़ा,ब्यूरो रिपोर्ट 

विधानसभा क्षेत्र शाहपुर की वोह घाटी स्थित खबरू महादेव झरना आस्था के साथ पर्यटन की दृष्टि से भी अपनी पहचान बना रहा है। क्षेत्र में ऊंचे पहाड़ों से कलकल बहता झरना गर्मी में लोगों को अपनी ओर खींच रहा है। यहां पर रोज पंजाब सहित हिमाचल के कोने-कोन से सैलानी पहुंच रहे हैं। प्राकृतिक सुंदरता से घिरा खबरू झरना सैलानियों की पहली पसंद बन रहा है।

हालांकि, खबरू महादेव तक पहुंचने के लिए लगभग चार किलोमीटर पैदल चलना पड़ता है, लेकिन यहां की सुंदरता पैदल सफर की थकान को पल भर में मिटा देती है। रोजाना सैकड़ों सैलानी खबरू महादेव की सुंदर वादियों का लुत्फ उठा रहे हैं।विभिन्न शिक्षण संस्थान यहां पर विद्यार्थियों को शैक्षणिक भ्रमण भी करवाते हैं। इसके साथ ही टूरिस्ट गाइड यहां पर सैलानियों को कैंपिंग के लिए लाते हैं। झरने के पास भगवान शिव का ऐतिहासिक मंदिर भी है। धार्मिक आयोजन पर पर्यटकों की संख्या और भी बढ़ जाती है। अब गर्मियों में यहां रोजाना सैंकड़ों सैलानी पहुंच रहे हैं। पर्यटकों के लिए ठहरने की व्यवस्था स्थानीय युवा कैंप और होम स्टे की भी व्यवस्था है। खबरू झरना हिमाचल का दूसरा सबसे ऊंचा झरना है।जनश्रुति के अनुसार इस झरने की आस्था पांडवों से भी जुड़ी हुई है। महाभारत के समय पांडव यहां भी कुछ समय के लिए रुके थे, जिसके साक्ष्य आज भी विराजमान है। इनमें से एक झरना भी है। बुजुर्गाें की मानें तो इस झरने का निर्माण भीम ने द्रौपदी के स्नान के लिए किया था। राधाष्टमी और जन्माष्टमी पर श्रद्धालु आस्था की पवित्र डुबकी लगाने यहां पहुंचते हैं।

युवा बोले- बोटिंग की मिले सुविधा तो बनेगी बातस्थानीय युवा तरसेम जरयाल, प्रताप जरयाल, निप्पि जरयाल, अंग्रेज कपूर, पप्पू राम, गगन सिंह, रणजीत गौरा, केवल सिंह गौरा और महिंद्र जरियाल आदि ने मांग की है वोह बाजार के पास एक बड़े स्तर की झील विकसित की जाए ताकि यहां आने वाले पर्यटक झील में बोटिंग आनंद ले सकें। इसके साथ यहां पर पंचवटी योजना के तहत रोज गार्डन की तर्ज पर पार्क विकसित किया जाए। हालांकि यहां पर बनी अटल वाटिका में 2,000 के करीब देवदार के पौधे लगाए हैं, लेकिन इसे बड़े स्तर पर विकसित करने की जरूरत है। इसके साथ ही वोह में खबरू झरने का सेल्फी प्वाइंट बनाया जाए ताकि पर्यटक यहां पर सेल्फी ले सकें। इसके साथ खबरू शिव धाम के पास शिव मूर्ति की बड़ी मूर्ति स्थापित की जाए। उक्त युवाओं ने कहा कि अगर सरकार और प्रशासन उक्त बातों को ध्यान में रखकर काम करता है तो यहां के स्थानीय युवाओं को घर पर ही रोजगार मिलेगा और यहां पर पर्यटकों की आमद भी बढ़ेगी।




Post a Comment

0 Comments

आखिर क्यों राशन डिपुओं से हुई चीनी गायब