Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

जिला कुल्लू में पर्यटन विभाग ने अस्थायी तौर पर बंद की पीज पैराग्लाइडिंग साइट

                                         अंधेरे में पैराग्लाइडिंग करवाना ऑपरेटर को पड़ा भारी 

कुल्लू,ब्यूरो रिपोर्ट 

जिला मुख्यालय कुल्लू की पैराग्लाइडिंग साइट पर रात के अंधेरे में पैराग्लाइडिंग करवाना ऑपरेटर को भारी पड़ गया है। जिला पर्यटन विभाग ने पीज पैराग्लाइडिंग साइट को अस्थायी तौर पर बंद कर दिया है। जब तक सरकारी मार्शलों की तैनाती नहीं होती है तब तक साइट का संचालन नहीं होगा और कोई भी पैराग्लाइडिंग नहीं होगी।नियमों को ताक पर रखकर रात के अंधेरे में सैलानियों की सुरक्षा से किए जा रहे खिलवाड़ को लेकर पर्यटन विभाग ने सख्त कार्रवाई की है। 

अमर उजाला ने 11 जून के अंक में अंधेरे में भी पैराग्लाइडिंग करवा रहे ऑपरेटर शीर्षक के साथ खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसके बाद जिला पर्यटन विभाग ने अलग-अलग तरह की तीन कार्रवाई की है।पर्यटन विभाग ने पैराग्लाइडिंग ऑपरेटर को नोटिस जारी कर कार्यालय तलब किया था। इस पर जिला पर्यटन अधिकारी सुनयना शर्मा ने कड़ी कार्रवाई करते हुए जहां पीज पैराग्लाइडिंग साइट को अगले आदेशों तक बंद कर दिया है। 

वहीं, पायलट का लाइसेंस भी एक सप्ताह के लिए सस्पेंड कर दिया है। पायलट एक हफ्ते तक कोई भी उड़ान नहीं भर सकेगा। इसके अलावा ऑपरेटर पर नियमों का उल्लंघन करने पर 10,000 रुपये का जुर्माना लगाया है।जिला पर्यटन अधिकारी सुनयना शर्मा ने कहा कि जब तक पीज पैराग्लाइडिंग साइट पर सरकारी मार्शल तैनात नहीं होते तब तक साइट बंद रहेगी। मार्शल को तैनात करने की प्रक्रिया विभाग ने शुरू कर दी है। जिला की विभिन्न साइटों में करीब 18 मार्शल तैनात किए जाएंगे। इससे हादसों पर अंकुश लग सकेगा।





Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी