Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

डूबने से एक हफ्ते में तीन मौ#तें

                                                      खड्डों में सुकून के गोते...नहीं ले रहे सबक

काँगड़ा,ब्यूरो रिपोर्ट 

 प्रचंड गर्मी से राहत की तलाश में लोग पहाड़ों के नदी, नालों और खड्डों में उतर रहे हैं। अब हालात ऐसे बने हैं कि कांगड़ा जिला में एक सप्ताह के भीतर डूबने से मौत के तीन मामले सामने आ चुके हैं। मैदानी इलाकों की गर्मी से परेशान पर्यटक धर्मशाला समेत जिले के अन्य स्थानों पर ठंडक पाने के लिए खड्डों डेरा जमाए हुए हैं, वहीं स्थानीय लोग भी इस मामले में पीछे नहीं हैं।

 रोजाना युवा खड्डों में नहाकर गर्मी से राहत तो पा रहे हैं, साथ ही हादसों को दावत भी दे रहे हैं। पूर्व में जिले में डूबने से हुई दर्जनों लोगों की मौतों से भी लोगों ने सबक नहीं लिया है।लोगों को नदी, नालों और खड्डों में न उतरने और जागरूक करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा जगह-जगह सूचना पट्ट लगाए गए हैं, लेकिन लोग इन्हें नजरअंदाज कर पानी में उतर रहे हैं। पिछले एक सप्ताह में गंगथ, जवाली और थुरल क्षेत्र में डूबने से मौत के मामले सामने आए हैं। उधर, दूसरे क्षेत्रों से आने वाले युवा और अन्य लोग ऐसे स्थानों पर डूबकी लगा रहे हैं, जहां पानी गहरा है और स्थानीय लोग भी वहां उतरने से डरते हैं, लेकिन यह युवा बेखौफ होकर पानी में उतर रहे हैं और हादसों को बुलावा दे रहे हैं।

जिला कांगड़ा के गंगथ क्षेत्र में 29 मई को खड्ड में डूबने से टेंट हाउस में काम करने वाले बलविंद्र सिंह उर्फ पाल (42) पुत्र रतन सिंह निवासी बेहड़ी बोहल की मौत हो गई थी। बलविंद्र सिंह अपने एक साथी शमशेर सिंह (55) पुत्र चूहड़ सिंह निवासी गांव मलाखड़ के साथ टेंट का सामान धोने दोनों छौंछ खड्ड में गया था। इसी बीच बलविंद्र सिंह पानी के तेज बहाव में बह गया। शमशेर सिंह उसे बचाने के लिए पानी में उतरा और तेज बहाव में फंस गए, जिसमें बलविंद्र सिंह की मौत हो गई। उपतहसील राजा का तालाब के अंर्तगत आती ग्राम पंचायत लाड़थ के बरोह गांव में मामा के घर रहने वाले आर्यन (22) वर्ष की चचियां खड्ड में ठहरे हुए पानी में डूबने से मौत हो गई थी। आर्यन अपने दो अन्य दोस्तों के साथ घर से बनोली की तरफ निकला था। ऐसे में प्रचंड गर्मी में बनोली में पहुंचने पर उसने चचियां स्थित खड्ड में ठहरे हुए पानी में नहाने के लिए छलांग लगाई, जबकि उसके दो अन्य साथी उस समय बाहर ही थे।

उन्होंने आर्यन को डूबते हुए देखा तो उन्होंने उसे बचाने के लिए काफी हाथ-पांव मारे, लेकिन बचाव में सफल नहीं हुए।वहीं थुरल की ग्राम पंचायत पुड़वा के गांव सनबाड के रहने वाले एक युवक राहुल (22) पुत्र राज कुमार की रविवार को न्यूगल खड्ड में डूबने से मौत हो गई थी। मृतक युवक राहुल अपने परिवार का इकलौता बेटा पुड़वा में अपने नाना नानी के पास ही रहता था। राहुल ने कुछ वर्ष पहले होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया था और वर्तमान में वह मंडी के एक होटल में नौकरी करता था। शनिवार को युवक घर में वोट डालने के लिए आया हुआ था। रविवार दोपहर को युवक अपने मामा धर्मेंद्र और अन्य लड़कों के साथ न्यूगल खड्ड में नहाने चला गया। राहुल को ज्यादा तैरना नहीं आता था। वह खड्ड के किनारे नहाने लगा और उसका पैर फिसल गया और वह गहरे पानी में चला गया, जिससे युवक की मौत हो गई थी।



Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा