Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

आखिरकार किस कारण किरतपुर नहर में उतरे गोताखोर

                                                 खू#न और ह#त्या में प्रयोग किए पत्थर मिले

बिलासपुर,ब्यूरो रिपोर्ट 

सोलन के टैक्सी चालक के शव को बरामद करने के लिए बिलासपुर पुलिस ने किरतपुर नहर में खोज अभियान शुरू कर दिया है। रविवार दोपहर बाद 2:00 बजे से गोताखोरों ने शव की तलाश की, लेकिन शाम तक कोई सुराग नहीं लग पाया था। सोमवार को इस अभियान में बीबीएमबी के गोताखोर भी शामिल होंगे। वहीं, आरोपियों को जिला अदालत में पेश किया गया, जहां से पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया है।

हत्या के आरोपी पंजाब के दोनों युवकों को पुलिस रविवार को वारदात स्थलों पर भी लेकर गई। आरोपियों को पहले बिलासपुर के बागी में ले जाया गया, वहां टैक्सी चालक की गमछे से गला घोंटकर हत्या की गई थी। बाद में चेहरे पर पत्थरों से वार किए। बागी में पुलिस को खून और हत्या में प्रयोग किए पत्थर मिले हैं। पूछताछ में पता चला है कि आरोपी पहले शव को वारदात स्थल के नजदीक ही कहीं झील या खड्ड में फेंकना चाहते थे। इसके लिए टैक्सी में शव को लेकर भराड़ीघाट तक पहुंच गए, लेकिन उन्हें कहीं झील या खड्ड नहीं दिखी।भराड़ीघाट के पास ही एक पंप पर उन्होंने पेट्रोल डलवाया। इसी पंप के सीसीटीवी में वह कैद भी हो गए थे। पेट्रोल डलवाने के बाद वह ब्रह्मपुखर होते नौणी पहुंचे। वहां से फोरलेन पर चल पड़े। सीसीटीवी कैमरों से बचने के लिए वह ट्रकों की आड़ लेते रहे। इसी तरह किरतपुर जा पहुंचे। वहां नहर किनारे सुनसान जगह ढूंढकर शव को पैरापिट पर रखा। मृतक की कमीज उतारी और नहर में धक्का दे दिया। पुलिस आरोपियों को किरतपुर में वारदात स्थल पर भी लेकर गई। वहां पुलिस को खून सहित अन्य सबूत मिले हैं। हालांकि टैक्सी चालक का मोबाइल और हत्या में प्रयोग किया गमछा नहीं मिला है।

टैक्सी चालक हरिकृष्ण निवासी गांव डोलरू डाकघर डोली तहसील रामशहर सोलन 24 जून को पंजाब के जसकरन जोत और गुरमीत सिंह को शिमला से मनाली ले गए थे। 25 जून को वह दोनों युवकों के साथ मनाली से लौट रहे थे। रात करीब 8:20 मिनट पर हरिकृष्ण की घर पर बात हुई और बताया कि बरमाणा में हूं। सवारियां बिलासपुर छोड़कर आऊंगा। कुछ देर बाद मोबाइल बंद हो गया। 26 जून को बेटे देशराज ने पिता की तलाश शुरू की। भराड़ी घाट-कयारड़ा पेट्रोल पंप के सीसीटीवी में उन्होंने टैक्सी देखी। देशराज के मुताबिक उन सवारियों में से एक व्यक्ति टैक्सी चलाकर लाया और दूसरा भी साथ ही था। पिता नहीं दिखे। पिछली सीट पर कोई व्यक्ति लेटा हुआ दिखा। डीएसपी मदन धीमान के नेतृत्व में बनी जांच टीम ने शुक्रवार को टैक्सी लुधियाना से ढूंढी। उसमें खून के धब्बे भी मिले। आरोपियों को शनिवार को पंजाब से गिरफ्तार कर बिलासपुर लाया गया।शव को बरामद करने के लिए किरतपुर नहर में अभियान चलाया गया है। आरोपियों से रिमांड के दौरान और भी पूछताछ की जाएगी। वारदात स्थलों से सबूत भी मिले हैं।






Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी