Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

लोगों को फिर सताने लगा पिछले साल जैसी तबाही का डर

                                                         शिमला में रिपन अस्पताल के पास भूस्खलन

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

2023 में शिमला में बारिश ने भारी तबाही मचाई थी. कई भवन गिरे, तो कई सड़कें भूस्खलन के कारण प्रभावित हुई. लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हुआ था, तो वहीं वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित हुई थी। इस वर्ष अभी बरसात का शुरुआती दौर है और शिमला के लोगों को एक बार फिर वैसा ही डर सताने लगा है। 

बीती रात शिमला के स्थानीय बस स्टैंड, रिपन अस्पताल के करीब भूस्खनल हुआ. बता दें कि यहां नई पार्किंग को बनाने का कार्य किया जा रहा था। मुख्य मार्ग में हुए भूस्खलन के बाद वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई तो, वहीं लोगों के मन में एक बार फिर बीते वर्ष की भयानक यादें ताजा हो गई है। नगर निगम शिमला के कृष्णा नगर वार्ड के पार्षद बिट्टू पाना ने बताया कि उनके वार्ड के तहत पड़ने वाले मुख्य मार्ग पर भूस्खलन हुआ है. यहां नई पार्किंग को बनाने का कार्य किया जा रहा था, बारिश की वजह से ठेकेदार ने यहां पार्किंग निर्माण का कार्य बंद कर दिया था। लेकिन, यहां दोबारा से कार्य शुरू क्यों किया गया, इसकी जानकारी नहीं है. यह स्थानीय बस अड्डा है, जहां से शिमला के विभिन्न उपनगरों के लिए बसों की आवाजाही होती है। 

भूस्खलन से मुख्य मार्ग पर वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई है.शिमला के बीचोबीच हुए भूस्खलन से लोगों की परेशानी बढ़ चुकी है. यहां दीन दयाल उपाध्याय (रिपन) अस्पताल भी है, जहां रोजाना हजारों लोग इलाज के लिए पहुंचते हैं। इसके अलावा यहां एक स्थानीय बस स्टैंड है, जहां से शिमला के टोलैंड, छोटा शिमला, संजौली, नवबहार, ढली, मोहाली, न्यू शिमला, पंथाघाटी आदि उपमंडलों के लिए बस मिलती है. यह भीड़ भाड़ वाला क्षेत्र है और हजारों लोग रोजाना यहां पहुंचते हैं. भूस्खलन से जहां लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है, वहीं ट्रैफिक व्यवस्था को संभालने के लिए पुलिस के जवानों को भी मशक्कत करनी पड़ रही है। 





Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी