Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

वन मंत्री राकेश पठानिया ने झण्डूता में पौध नर्सरी का किया निरीक्षण

बिलासपुर,रिपोर्ट

वन एवं युवा खेल सेवाएं मंत्री राकेश पठानिया ने झण्डूता में वन विभाग द्वारा लगाई गई नर्सरी का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उन्होंने बताया कि वन विभाग द्वारा झंडूता पौध नर्सरी में 38914 विभिन्न प्रजाति के पौधे तैयार किये जा रहें हैं। इन पौधों को वन विभाग झंडूता रेंज के अंतर्गत आने वाले जंगलो में रोपित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि वन नर्सरी में आवला, अर्जुन, बेहड़ा, हरड, जामुन, दाडू, कचनार, खैर, बांस इत्यादि औषधीय, फलदार एवं पशु चारे के पौधे शामिल हैं। उन्होंने बताया कि वन नर्सरी में आंवले के 8132, अर्जुन के 6252, बेडे के 2173, हरड के 63, जामुन के 3861, दाडू के 10994, कचनार 2930, खैर के 1775 एवं बांस के 2734 पौधे तैयार किए गए हैं।


इस अवसर पर उन्होंने कहा कि वन विभाग की सभी नर्सरियों में जल भण्डारण और वर्मी कम्पोस्ट, स्प्रिकल सिस्टम के द्वारा नर्सरी पौधशाला में पौधों को सिंचाई की व्यवस्था की जाएंगी ताकि नर्सरी से जो भी पौधे निकले वो बेहतर प्रजाति के हो और उनकी जीवित प्रतिशतः में ज्यादा सुधार आए।

 उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि गर्मी के मौसम में घास के लिए जंगलों में आग ना लगाएं। उन्होंने बताया कि आगजनी वन सम्पदा नष्ट होने के साथ-साथ जंगलो में रहने वाले जीव जंतुओं के जीवन खतरे में रहता है।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से निपटने के लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह से सर्तक है। प्रदेश में कोरोना महामारी से संक्रमित रोगियों के उपचार के लिए विभिन्न सुविधाएं दी जा रही है ताकि किसी भी स्तर पर कोरोना रोगियों के उपचार में कोई भी कमी न रहे। उन्होंने कहा कि जहां प्रदेश के अस्पतालों में कोरोना रोगियों की बेहतर देखभाल की जा रही है वहीं होम आईसोलेशन में रह रहे रोगियों को स्वास्थ्य की स्वयं निगरानी रखने के लिए होम आईसोलेशन किट भी वितरित की जा रही है ताकि होम आईसोलेशन में रह रहे कोरोना संक्रमितों को स्वास्थ्य लाभ मिल सके।

उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि कोरोना से बचाव के लिए सरकार के दिशा निर्देशों, सामाजिक दूरी, बार-बार हाथ धोना, सही ढंग से मास्क पहनने के नियमों की अनुपालना करें तथा खांसी, जुखाम इत्यादि के लक्षण दिखने पर कोरोना टैस्ट करवाना सुनिश्चित करें।

विधायक झण्डूता जे.आर. कटवाल ने भी लोगों से वन सम्पदा की रक्षा करने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमित व्यक्तियों में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने तथा पर्यावरण में आॅक्सीजन स्तर को बढ़ाने के लिए औषधीय पौधों का काफी महत्व है। उन्होंने आमजन से अधिक से अधिक औषधीय पौधे लगाने का आग्रह किया।

इस अवसर पर पंचायत समिति  अध्यक्ष अभिशेष चंदेल, मण्डलाध्यक्ष मोहिन्द्र सिंह चंदेल, डीएफओ अवनी भूषण राय, सीसीएफ देव राज कौषल, रैंज आॅफिसर अशोक कुमार शर्मा, डिप्टी रैंजर ज्ञान सिंह, वन रक्षक देश राज, शुभम ठाकुर उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments

लकड़ीनुमा स्लेटपोश में दस कमरों का घर जलकर राख