Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

ऐहजु में कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों की हुई स्वास्थ जांच

                      बाल विकास परियोजना चौंतड़ा के माध्यम से वृत ऐहजु के बच्चों की करवाई स्वास्थ्य जांच 

जोगिंदर नगर, रिपोर्ट जतिन लटावा 

 जोगिन्दर नगर, 24 मार्च -बाल विकास परियोजना चौंतड़ा के माध्यम से वृत ऐहजु के कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों की गीता भवन ऐहजु में स्वास्थ्य जांच करवाई गई। जिसमें कोई भी बच्चा अति कुपोषित श्रेणी में नहीं पाया गया है। कुपोषित श्रेणी में शामिल हुए बच्चों बारे उनके अभिभावकों को पोषणयुक्त आहार संबंधी विस्तृत जानकारी दी गई।

इस बारे जानकारी देते हुए बाल विकास परियोजना अधिकारी चौंतड़ा बीआर वर्मा ने बताया कि एसडीएम जोगिन्दर नगर के निर्देशानुसार आज वृत ऐहजु के कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों की स्वास्थ्य जांच करवाई गई। जांच में कोई भी बच्चा अति कुपोषित श्रेणी में नहीं पाया गया है। साथ ही कुपोषित श्रेणी में पाए गए बच्चों के अभिभावकों को पोषणयुक्त आहार बारे भी विस्तृत जानकारी दी गई।

उन्होने बताया कि डॉ. मोनिका राणा ने ऐहजु वृत के कुपोषित व अति कुपोषित श्रेणी में शामिल 16 बच्चों में से 10 की स्वास्थ्य जांच करवाई गई। जिनमें से कोई भी बच्चा अति कुपोषित श्रेणी में नहीं पाया गया है। साथ ही जो बच्चे कुपोषण श्रेणी में शामिल हुए हैं, उनके अभिभावकों को पोषणयुक्त आहार देने की जानकारी भी दी।

अभिभावकों को बताया गया कि पहले 6 माह तक केवल मां का दूध ही बच्चों को आहार के रूप में दिया जाना चाहिए। 6 माह के पश्चात मां के दूध के अलावा अतिरिक्त पौष्टिक आहार भी बच्चों के भोजन में शामिल करें। जिसमें मौसमी फल व सब्जियों  के साथ-साथ ड्राई फ्रूट को भी शामिल कर सकते हैं। अतिरिक्त पोषणयुक्त आहार से न केवल बच्चा स्वस्थ रहेगा बल्कि उसका सही शारीरिक व मानसिक विकास भी होगा।


              

Post a Comment

0 Comments

गेट बना नहीं लेकिन लोहे को जंग लग गया वो अलग बात