Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

विश्व पर्यावरण दिवस के साथ साथ विश्व नो टोबैको दिवस,मेंस्ट्रुअल हैल्थ दिवस भवारना में आयोजित

पालमपुर,संसार शर्मा
सोमवार को स्वास्थ्य खंड भवारना के अंतर्गत विभिन्न संस्थानों में  विश्व पर्यावरण दिवस के साथ साथ विश्व नो टोबैको दिवस,मेंस्ट्रुअल हैल्थ दिवस समारोह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय भवारना मेंआयोजित किया गया।इसमें बच्चों के पीयर ग्रुप ने भी अपने अंदाज में अपने विचार रखे।स्वास्थ्य खंड भवारना से स्वास्थ शिक्षिका दया देवी ने बड़े ध्यान से बच्चों के विचार सुने फिर अपने अंदाज में बच्चों को बताया कि पर्यावरण की साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें।अपने घर में भी कूड़ा इधर उधर न फेंके। कूड़े के लिए पिट बनाएं ताकि गलने बाला कचरा खाद में बदल जाए ।पर्यावरण को धुआं रहित बनाने में सहयोग करें। नशे से अपने आप को बचाएं,अगर आप के सामने कोई बीड़ी सिगरेट का इस्तेमाल करता है तो पैसिव स्मोकिंग से बचने के लिए  विरोध करें उसे अपने स्तर पर समझाने की कोशिश करें।अपनी दिनचर्या को सही रखें,अपना हरेक काम समय पर पूरा करें।अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखें संतुलित भोजन करें,व्यायाम जरूर करें।
इसके अलावा मासिक धर्म के दौरान साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें अपने सैनिटरी नैपकिन समय समय पर बदलते रहें ब उचित तरीके  से इनका निपटारा करें बच्चों को बताया गया कि जब भी शौचालय का इस्तेमाल करें तो साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें।अगर किसी को 10 से 19साल तक भी मासिक धर्म नहीं आता तो नजदीकी स्वास्थ्य संस्थान में जाकर अपनी जांच करवाए ब खुलकर अपनी बात रखें।अगर किसी बच्ची को मासिक धर्म के दौरान पेट में तेज दर्द या ज्यादा मात्रा में खून बहता है तो भी अपनी जांच करवाए।बच्चों को बताया गया कि मासिक धर्म सामान्य बात है और यह सबके साथ होता है हार्मोनल बदलाव के कारण हमारे शरीर में बदलाब होना सामान्य बात है यह हमारी दादी,नानी, मां सब इस सफर से ही गुजरी हैं अगर उन्हें मासिक धर्म न होता तो आज हम नहीं होते  ।बच्चों अगर आपके घर में किसी महिला को  योनिमार्ग से सफेद पानी, हरा पानी,या पीला पानी आता है और पेट दर्द भी रहती है तो उन्हें अपना इलाज करवाने की सलाह दें।अगर कोई महिला मेनोपॉज उम्र में है और ज्यादा खून बहने की या कमजोरी महसूस करने की बात कहती है तो उसे तुरंत डॉक्टरी सलाह लेने के लिए कहें क्योंकि समय पर इलाज करवाने से  बीमारियों से बचा जा सकता है।
इसके साथ साथ तले भुने,मैदे से बनी चीजें कम सेवन करें,व्यायाम रोज करें।सभी उपस्थित बच्चों को फल  ब बाल पैन बांटे गए।पार्टिसिपेट करने वाले बच्चों को  भी बालपेन दिए गए।स्थानीय आशा एवम स्कूल के स्टाफ का पूरा सहयोग रहा ।

Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा