Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

कृषि विश्वविद्यालय में हमीरपुर के किसानों ने जाना मुर्गी पालन


पालमपुर, रिपोर्ट
चौधरी सरवन कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय के डॉ. जीसी नेगी पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान महाविद्यालय में मुर्गी पालन की विभिन्न संभावनाओं पर एक दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया गया। हमीरपुर जिला के नादौन और सुजानपुर ब्लॉक के प्रशिक्षुओं को टाटा ट्रस्ट द्वारा शुरू की गई हिमोत्थान परियोजना के सहयोग से यह प्रशिक्षण प्रदान किया गया। 
कुलपति प्रो एच के चौधरी ने किसानों को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए वैज्ञानिकों की सराहना की। प्रशिक्षण कार्यक्रमों में मुर्गीपालन के विभिन्न पहलुओं जैसे खेती प्रणाली, विभिन्न नस्लें, आवास प्रणाली, भोजन प्रबंधन, बीमारी की रोकथाम और नियंत्रण, मुर्गीपालन से होने वाली ज़ूनोटिक बीमारियाँ, आर्थिकी मूल्यांकन और अंतिम उपज (अंडे/मांस) की मार्केटिंग पर जानकारी दी गई। प्रशिक्षण कार्यक्रम में पशु चिकित्सा और पशुपालन विस्तार शिक्षा विभाग के  डा. देवेश ठाकुर और डा. राकेश आहूजा ने समन्वयक और डा. संजय खुराना और डा. मनोज शर्मा सह समन्वयक रहे। हिमोत्थान परियोजना के प्रतिनिधियों ने इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के आयोजन में मदद के लिए डीन और संकाय सदस्यों को धन्यवाद दिया। प्रशिक्षण बैच में आठ पुरुष और तीन महिला प्रशिक्षु शामिल थे।

Post a Comment

0 Comments

4 मार्च से ऊना-हरिद्वार ट्रेन सेवा शुरू होगी