Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री के वर्चुअल संवाद में लिया भाग

◆मुख्यमंत्री ने पी. मित्रा के निधन पर किया शोक व्यक्त 

◆नाबार्ड से सिरमौर जिले के लिए पांच सड़क परियोजनाएं मंजूर

शिमला, रिपोर्ट
देश के विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ आज वर्चुअल संवाद करते हुए  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चेताया है कि कोविड की चुनौती अभी समाप्त नहीं हुई है। उन्होंने कहा कि अन्य देशों की तुलना में भारत द्वारा कोविड का बेहतर प्रबन्धन करने के बावजूद हम कुछ राज्यों में कोविड मामलों में वृद्धि देख रहे हैं। हमें और अधिक सर्तक रहने की आवश्यकता है। 
मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर बैठक में शिमला से वर्चुअल माध्यम से शामिल हुए।
गृह मंत्री अमित शाह ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया। केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव ने देश में कोविड की स्थिति के संबंध में विस्तृत प्रस्तुति दी। 
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल, मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुभासीष पन्डा, एनएचएम के निदेशक हेम राज बैरवा ने मुख्यमंत्री के साथ बैठक में भाग लिया।

 मुख्यमंत्री ने पी. मित्रा के निधन पर शोक व्यक्त किया

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने पूर्व मुख्य सचिव एवं पूर्व राज्य चुनाव आयुक्त पी. मित्रा के निधन पर शोक व्यक्त किया है।
पी. मित्रा का निधन नई दिल्ली में हुआ।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पी. मित्रा ने अपने सेवाकाल के दौरान विभिन्न पदों पर पूर्ण निष्ठा एवं समर्पण के साथ सेवाएं प्रदान की। जय राम ठाकुर ने शोक संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हुए ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति की प्रार्थना की।

 
नाबार्ड से सिरमौर जिले के लिए पांच सड़क परियोजनाएं मंजूर

नाबार्ड ने हिमाचल प्रदेश के लिए 21 सड़क एवं पुल परियोजनाओं को स्वीकृति प्रदान की है, जिनमें सिरमौर जिला के लिए पांच सड़क परियोजनाएं शामिल हैं। बहुद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री सुख राम चौधरी ने आज यहां यह जानकारी देते हुए कहा कि सिरमौर जिला के पांवटा साहिब विधानसभा क्षेत्र के लिए तीन प्रमुख नई सड़कों के निर्माण और एक सम्पर्क मार्ग के सुधारीकरण को नाबार्ड से स्वीकृति मिली है। पच्छाद निर्वाचन क्षेत्र में एक सड़क के स्तरोन्नयन जबकि रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र में एक सड़क के निर्माण के लिए केन्द्र सरकार से वन स्वीकृति प्राप्त हुई है।
उन्होंने कहा कि पांवटा साहिब निर्वाचन क्षेत्र में 1049.01 लाख रुपये की अनुमानित लागत से 6.5 किलोमीटर लम्बे राजपुर-कुथियाणा सड़क मार्ग, 739.25 लाख रुपये की अनुमानित लागत से बाता नदी के किनारे सन्तोषगढ़ पुल से फतेहपुर गांव तक 5.6 किलोमीटर लम्बे सड़क मार्ग और 319.01 लाख रुपये की अनुमानित लागत से गोरखुवाला पंचायत घर से दुधला व खरोंला तक 1.83 किलोमीटर लम्बी सड़क को स्वीकृति प्राप्त हुई है। 
सुख राम चौधरी ने कहा कि पांवटा साहिब निर्वाचन क्षेत्र में राष्ट्रीय उच्च मार्ग-07 पर अमरगढ़-जोहड़ों-क्यारदा-जगतपुर-आईपीएच कॉलोनी माजरा तक कुल 8.04 किलोमीटर लम्बे सड़क मार्ग के स्तरोन्नयन एवं सुधार कार्य के लिए भी मंजूरी मिल गई है। इस कार्य पर 1023 लाख रुपये की अनुमानित लागत आएगी। 
उन्होंने कहा कि इन सभी परियोजनाओं के लिए सारी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं और इन पर कार्य आरम्भ करने के लिए शीघ्र ही टैंडर प्रक्रिया आरम्भ की जाएगी।
ऊर्जा मंत्री ने बताया कि केन्द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने सिरमौर जिले के रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत मधाना गांव से फांदीबोडीवाला वाया जंगलोट सम्पर्क सड़क मार्ग के निर्माण के लिए भी वन स्वीकृति प्रदान की है। उन्होंने कहा कि इस सड़क का निर्माण कार्य काफी समय से लम्बित है और उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर केन्द्र सरकार से वन स्वीकृति का मामला उठाया था, जिसके कारण यह मंजूरी प्राप्त हुई है। 
उन्होंने कहा कि इस सड़क के बनने से क्षेत्र की 30 पंचायतों के 50 हजार से अधिक लोगों को लाभ मिलेगा और दिल्ली, अम्बाला, करनाल और जयपुर के लिए रेणुका जी, हरिपुरधार व राजगढ़ से लगभग 50 किलोमीटर कम सफर तय करना पड़ेगा। साथ ही प्रदेश में धार्मिक पर्यटन को भी प्रोत्साहन मिलेगा, क्योंकि इस मार्ग से विभिन्न धार्मिक स्थलों की दूरी कम होगी। इसके अलावा, निर्माणाधीन रेणुका बांध परियोजना के लिए भी यह मार्ग सहायक साबित होगा। उन्होंने कहा कि इस सड़क मार्ग के निर्माण के लिए सभी औपचारिकताओं को शीघ्र पूरा कर इस पर कार्य आरम्भ किया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस सड़क के बनने से लोगों की लम्बे समय से लम्बित पड़ी मांग पूरी होगी। 

Post a Comment

0 Comments

आखिर क्यों राशन डिपुओं से हुई चीनी गायब