Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

सरकार विधानसभा में देगी विपक्ष को जवाब, मुख्यमंत्री ने कई बार किए प्रयास लेकिन नहीं मिली केंद्र से मदद

 भारत Vs इंडिया की बहस के बीच हिमाचल सरकार के CPS ने PM को दिलाई 9 साल पहले किए वायदे की याद

शिमला,रिपोर्ट नीरज डोगरा 

हिमाचल प्रदेश सरकार में मुख्य संसदीय सचिव किशोरी लाल अपने विधानसभा क्षेत्र में आपदा प्रभावित इलाकों का दौरा करके वापिस पहुंचे. इस दौरान किशोरी लाल ने मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह के आपदा के दौरान दिन-रात काम करने की बात कहते हुए मुख्यमंत्री की खुलकर तारीफ की. इसी के साथ उन्होंने विपक्ष पर भी निशाना साधा और कहा कि विपक्ष सत्ता से बाहर है ऐसे में इस तरह का रवैया अपना रहा है और सरकार विपक्ष को विधानसभा में जवाब देगी। 

CPS किशोरी लाल ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने हिमाचल प्रदेश को आपदा प्रदेश घोषित करने और प्रदेश को मदद देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी से कई बार बात की लेकिन अभी तक केंद्र की ओर से कोई मदद नहीं दी गई. उन्होंने कहा जबकि लोग अपने स्तर पर खुल कर मदद कर रहे हैं. विपक्ष के लगातार केंद्र की ओर से मदद दिए जाने की बात पर जवाब देते हुए किशोरी लाल ने कहा कि केंद्र की ओर से कितनी मदद मिली है सब विधानसभा सत्र के दौरान साफ हो जाएगा. सरकार विपक्ष की हर बात का जवाब देगी. उन्होंने विपक्ष पर हमला बोलते हुए कहा कि विपक्ष सत्ता से बाहर है और इस तरह का रवैया अपना रहा है. उन्होंने कहा कि लोकतंत्र है ऐसे में हर किसी को अपनी बात कहने का अधिकार है. किशोरी लाल ने पक्ष और विपक्ष के बीच चल रही राजनीतिक जुबानी जंग को देव और असुर संग्राम से भी तुलना की। 

उधर देश भर में भारत और इंडिया के नाम को लेकर छिड़ी बहस के बीच हिमाचल प्रदेश सरकार में मुख्य संसदीय सचिव किशोरी लाल ने प्रधानमंत्री मोदी को 9 साल पहले किए वायदे की याद दिलाई. CPS किशोरी लाल ने कहा कि सरकार नाम के चक्कर में लोगों को उलझाने का काम कर रही है. आम जनता को इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, आम जनता को रोजगार चाहिए और महंगाई से राहत चाहिए. CPS किशोरी लाल ने प्रधानमंत्री को 9 साल पहले किए गए वादे की याद दिलाते हुए कहा कि प्रधानमंत्री को 2 करोड़ रोजगार देने का वादा याद करना चाहिए. उन्होंने कहा कि "सारे जहां से अच्छा हिंदुस्तान हमारा" और कहा की हिंदी में भारत अंग्रेजी में इंडिया तो किसी और भाषा में हिंदुस्तान है लेकिन सबके मायने एक ही है। 




Post a Comment

0 Comments

रोटरी क्लब पालमपुर में हुए आयोजित कैंप में आज तक हुए सबसे बड़े कैंप में 302 रोगियों की जाँच की गई