Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

बीएसएनल द्वारा 4जी सिग्नल टावर की स्थापित किया गया

                                         धार कंडी क्षेत्र के करेरी में पहुंचा बीएसएनल का 4जी सिग्नल

काँगड़ा,ब्यूरो रिपोर्टं 

दशकों के बाद शाहपुर के सुदूर पहाड़ी क्षेत्र कुथारना और नौली में बीएसएनल द्वारा 4जी सिग्नल टावर की स्थापित किया गया है। चुनाव के दौरान इस क्षेत्र को शैडो जोन घोषित किया गया था। डीसी कांगड़ा हेमराज बैरवा ने इस चुनौती को समझते हुए बीएसएनल से लोकसभा चुनाव से पहले 4जी टावर लगाने का आग्रह किया था। सोमवार को स्थानीय प्रशासन और पंचायतों के सहयोग से बीएसएनल ने कथारना और नौली में टावरों की स्थापना कर दी है।

बीएसएनएल की तकनीकी विशेषज्ञता और समर्पण ने इस चुनौतीपूर्ण कार्य को सफलतापूर्वक पूरा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस पहल से न केवल स्थानीय निवासियों की जीवन गुणवत्ता में सुधार हुआ है, बल्कि शिक्षा, स्वास्थ्य और आर्थिक विकास के नए द्वार भी खुले हैं। इससे करेरी में पर्यटन को चार चांद लगेगे, करेरी ट्रैक के दौरान भी काफी हद तक अब सिग्नल उपलब्ध रहेगा और बेहतर कनेक्टिविटी के कारण पर्यटक अब इस क्षेत्र में यात्रा करते समय अपने परिवार और दोस्तों के साथ आसानी से जुड़े रह सकते हैं और अपनी यात्रा के अनुभवों को वास्तविक समय में साझा कर सकते हैं। बेहतर नेटवर्क सुविधा से आपातकालीन स्थितियों में मदद प्राप्त करना भी आसान हो जाता है। जिससे पर्यटकों का सुरक्षा का भाव बढ़ता है। इस प्रकार 4जी सिग्नल टावर की स्थापना से पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा मिलता है, जिससे स्थानीय अर्थव्यवस्था को भी लाभ होता है और क्षेत्र का समग्र विकास होता है।




बेहतर इंटरनेट कनेक्टिविटी से छात्र अब ऑनलाइन कक्षाओं में भाग ले सकते हैं, डिजिटल लाइब्रेरी का उपयोग कर सकते हैं, और विभिन्न शैक्षिक संसाधनों तक आसानी से पहुंच सकते हैं। इससे शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा और छात्रों को दुनिया भर के ज्ञान और जानकारी से जोड़ा जा सकता है। साथ ही शिक्षक भी नए-नए शिक्षण तरीकों को अपनाने में सक्षम होंगे, जिससे शिक्षण प्रक्रिया अधिक प्रभावी शिक्षक भी नए-नए शिक्षण तरीकों को अपनाने में सक्षम होंगे, जिससे शिक्षण प्रक्रिया अधिक प्रभावी और रुचिकर बनेगी। दशकों के बाद सुदूर पहाड़ी क्षेत्र में 4जी सिग्नल टावर की स्थापना से लोगों की कठिनाइयों में काफी कमी आएगी। बेहतर कनेक्टिविटी के कारण, स्थानीय निवासियों को अब प्रभावी संचार और इंटरनेट सेवाओं का लाभ मिलता है, जिससे वह अपने प्रियजनों के साथ जुड़ सकते हैं। इस प्रकार, 4जी सिग्नल टावर की स्थापना से इस पहाड़ी क्षेत्र में रहने वाले लोगों की जीवन गुणवत्ता में व्यापक सुधार होगा।


Post a Comment

0 Comments

पालमपुर की बेटी प्रणवी सूद ने किया जिले का नाम गर्व से ऊँचा