Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

पर्यटकों को लुभाने लिए होटलों में 50 फीसदी तक की छूट

                                                           ऑक्यूपेंसी 69 से घटकर 35 फीसदी

शिमला,ब्यूरो रिपोर्ट 

मानसून में उमस भरी गर्मी से निजात दिलवाने के लिए सैलानियों की आवभगत की तैयारियां शुरू हो गई हैं। समर सीजन के बाद जुलाई माह में ठप पड़े रहे होटल कारोबार को पटरी पर लाने के लिए राज्य पर्यटन विकास निगम ने अपने होटलों में 20 से 40 फीसदी छूट देने का फैसला लिया है।दूसरी तरफ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए राजधानी के निजी होटलों में भी पर्यटकों को ठहरने के लिए 50 फीसदी छूट तक का ऑफर दे रहे है।

इसके साथ में टूर पैकेज पर 20 फीसदी का डिस्काउंट मिलेगा। उल्लेखनीय है कि जुलाई महीने में निगम के होटलों में ऑक्यूपेंसी 69 से घटकर 35 फीसदी रह गई है। इसके अलावा निजी होटलों में भी 35 से 40 फीसदी ऑक्यूपेंसी चल रही है।पर्यटन निगम ने प्रदेश के करीब 45 होटलों में छूट देने का फैसला लिया है। शिमला, मनाली, धर्मशाला, डलहौजी, कसौली और चंबा सहित प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में स्थित निगम के होटलों में छूट की सुविधा मिलेगी। कमरों की बुकिंग करवाने के लिए सैलानियों को पर्यटन निगम की वेबसाइट पर सभी होटलों की रेट लिस्ट के साथ जानकारी मिलेगी। निगम ने इस बाबत वेबसाइट को अपडेट कर दिया है।पर्यटन कारोबारियों ने भी 1 अक्तूबर तक होटल के कमरों की बुकिंग पर छूट देते हुए सैलानियों को रिझाने का प्रयास किया है।

 ट्रैवल एजेंट एसोसिएशन शिमला के महासचिव मनु सूद ने बताया कि प्री-मानसून सीजन के बाद सैलानियों को रिझाने के लिए पर्यटकों को होटलों में छूट दी जा रही है। आने वाले दिनों में सैलानियों की आवाजाही बढ़ने की उम्मीद है।पर्यटन निगम के महाप्रबंधक अनिल तनेजा ने बताया कि 13 सितंबर तक कमरों की बुकिंग पर 20 से 40 फीसदी छूट दी जा रही है। 28 जुलाई से 4 अगस्त तक मिंजर मेले के दौरान चंबा और भरमौर में होटलों में कोई छूट नहीं मिलेगी।पर्यटन निगम के रिवालसर स्थित पर्यटन सराय, सराहन में होटल श्रीखंड, जवालामुखी, रोहड़ू के चांशल, कुल्लू के होटल सरवरी और सिल्वरमून, मनाली के होटल मनालसू, चंबा के होटल चंपक और इरावती, स्वारघाट के हिल टॉप, चामुंडा के यात्री निवास, चिंतपूर्णी हाइटस, पालमपुर के द न्यूगल होटल में 20 फीसदी की छूट दी गई है।




Post a Comment

0 Comments

 कई भागों में 21 जुलाई तक मानसून की बारिश जारी